Homeछत्तीसगढ़कोरोना कि विशेषतायें राज आचार्य

कोरोना कि विशेषतायें राज आचार्य

करोना की विशेषता।

अच्छा दिखने का समय बीत गया।

अच्छा बनने का समय आ गया है।समझ लो जो दुनिया को झुकाने की सोच रहा आज ईश्वर के सामने झुक गया।मुसीबतों के बवंडर उठ गए कोई बिखर गया तो कोई निखर गया।ईश्वर पर का विश्वास अपने जगह अटल रहा।करोंना समस्या लाया कुछ दिखा रहा।कुछ सिखा रहा।कुछ बर्बाद कर रहा तो कुछ आबाद।रास्ते निर्जन तो घर बगिया।बाग खाली तो गुलशन घर की कलिया।कुछ शैतानों की इंसानों में तब्दीलीया।तो कुछ इंसानों की भगवान में बदलिया।सबको घरों में बिठाकर घर को मंदिर बनाया जो अनजान हो चले थे उन्हें पहचान दिलाया।मंदिर के भगवान पर घर मे रहकर भी श्रध्दा विश्वास जगाया।थिएटर खाली हुए तो घर मे पूजा आरती की घंटी बजाया।ऐसा समय आ गया जिसको हो सकता लग जाती सदिया।करोना ने कुछ बुरा किया तो कुछ अच्छा भी किया।इंसानों को इंसानो से मिला दिया।एक अस्वस्थ परिवार को स्वस्थ कर किया।तो कुछ मृत रिश्तों को नया जीवन दिया।सबसे बड़ी बात इंडिया को भारत बना दिया और हर इंडियन को भारतीय बना दिया।और ये सोचकर गुरुकृपा से लिखने का मुझे अवसर भी दिलाया।🙏🇮🇳जय हिन्द जय भारत।🇮🇳🙏

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments