Homeदेशभारत में करोना का भविष्य

भारत में करोना का भविष्य

लेखक:डॉ पुष्कर मोहन नैथानी

मित्रों। मार्च माह से और अब तक करोना ने पूरे भारत में हाहाकार मचा रखा है। कोरोना को हम अब तक नकारात्मक रूप से देख रहे हैं किंतु सत्य यह है कि समय जो कुछ जो कुछ करता है वह शुभ के लिए करता है। हमें कोरोना से कुछ सकारात्मक जो संदेश है वह ले लेंगे चाहिये । हमे अपने जीवनशैली को बदल लेना चाहिए । कोरोना मात्र संसार में इसलिए व्याप्त हुआ है कि हम अपनी जीवनशैली को बदले
हम जो धर्मप्रधान देश है उसमें हम आज धनप्रधान धन की ज्यादा महत्ता रखने के लिए जाने जाने लगे हैं तो यह कोरोना हमें सिखाता है हम धर्मप्रधान हो न कि धनप्रधान हम श्रमप्रधान हो न कि अर्थप्रधान।

हमें अपने जीवन को पुराने जो हमारे पहले के पूर्वज जिस जीवन शैली में जीते थे हमे उस जीवन शैली को अपनाना पड़ेगा। देखिये कोरोना का सुप्रभावः गंगा जिसको 6 साल में मोदी जी नहीं कर सके राजीव गांधी जी अपने शासनकाल में नहीं कर सके उसको कोरोना ने चार महीने में एकदम साफ कर दिया हिमलय जो दूर से नही दिखाई देता था वो आज सहारनपुर से दिखने लगा है। पारीस्थितियों को समझने की चेष्टा कीजिए समय हम से क्या अपेक्षा करता है उसे समझने का प्रयास कीजिए अपनी जीवनशैली को बदलिए अन्यथा कोरोना की मार से 26 अप्रैल 2021 तक जीवित रह गया संसार देखेगा अन्यथा कोरोना किस को अपनी चपेट में ले लेगा यह अभी भविष्य के गर्भ में है ।

मित्रों कोरोना अभी सेप्टेंबर मास में एक बार कुछ काम होगा और हमें ऐसा दिखाई देगा कि कोरोना शांत हो गया है वह उसकी सुप्तअवस्था होगी सत्य यह है कि 23 अक्टूबर 2020 के बाद करोना फिर एक बार जोर पकड़ेगा। दिसंबर परियंत कोरोना इतनी जोर से झटके मारेगा की उसको बर्दाश्त करना संभव नहीं हो पाएगा इसलिए हमें चाहिए हम अपनी जीवनशैली को बदलकर कोरोना के समरूप समायोजित करे अपने जीवन को जेसा करोना हम से अपेक्षा करता है क्या करता है ।

आदरणीय मोदी जी मार्च के महीने से इस बात को कह रहे हैं कि दूरी बनाईये संभल कर के रहिये भोजन घर का बना हुआ कीजिए समान्य भोजन कीजिए स्पाइसी फैटी मांस मदिरा का सेवन बंद कीजिए एकांतवास कीजिये यह समय सेल्फ इंट्रोपेक्शन आत्माअवलोकन तत्वपूव एकांत में बैठिये अपने को ढूंढइये । जो इस जीवन शैली को अपना लेगा वह ही 26 अप्रैल 2021 पकड़ पाएगा मैं आपको भयभीत नहीं करना चाहता लेकिन सावधानी और सतर्कता यह ही हमें 26 अप्रैल 2021 तक पहुंचा सकती है। सावधानी हटी और दुर्घटना घटी यह निश्चित बात मान लीजिय जो अब भी रास्ते पर नहीं आएंगे वो निश्चित समझ ले कि 26 अप्रैल 21 पकड़ पाना उनको बहुत ही मुश्किल होगा ।

नवंबर दिसंबर 2020 बहुत भयानक रहेंगे इसलिए अभी से अपनी जीवनशैली में परिवर्तन ले आइये। आत्माअवलोकन आत्मनिरीक्षण तत्वनिरीक्षण कीजिए समय आपसे क्या अपेक्षा करता है पर्यावरण को शुद्ध रखिये आने आप भी शुद्व रहिये शुद्ध आचरण रखिये आपका कोरोना कुछ नही बिगाड़ेगा। लेकिन दुष्ट आचरण वाले दुष्ट प्रवृत्ति वाले मांस मदिरा का सेवन करने वाले अपने आप को सुरक्षित ना समझें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments