Sunday, January 24, 2021
Home ट्रेंडिंग पत्रकार शिव प्रशाद सेमवाल राजनीती में उतरे भस्टाचारियों की खैर नहीं

पत्रकार शिव प्रशाद सेमवाल राजनीती में उतरे भस्टाचारियों की खैर नहीं

सक्रिय राजनीति में पदार्पण से पहले शिवप्रसाद सेमवाल ने दिया वेब मीडिया एसोसिएशन से इस्तीफा।

पत्रकार शिव प्रसाद सेमवाल का सक्रिय राजनीति में पदार्पण पत्रकारिता से दिया इस्तीफा

उत्तराखंड वेब मीडिया के निर्विरोध अध्यक्ष शिव प्रसाद सेमवाल ने राजनीतिक जीवन में सक्रिय भूमिका निभाने से पहले वेब मीडिया एसोसिएशन से इस्तीफा सौंप दिया है।

 वेब मीडिया एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ आयोजित एक कार्यक्रम में शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि वह बहुत जल्दी सक्रिय राजनीति में कदम रखने जा रहे हैं, इसलिए नैतिकता के तहत वह वेब मीडिया एसोसिएशन पर इस्तीफा दे रहे हैं।

 शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि जिन उद्देश्यों के लिए 20 साल तक पत्रकारिता का माध्यम चुना था, अब उन्हीं उद्देश्यों को और भी अधिक प्रभावी ढंग से उठाने के लिए राजनीतिक माध्यम चुनने जा रहे हैं।

 सेमवाल ने कहा कि उन्होंने रास्ता और माध्यम बदला है उद्देश्य नहीं।

” वह पत्रकारिता के क्षेत्र में रहकर उत्तराखंड के हितों की जो लड़ाई लड़ रहे थे, उसी लड़ाई को और अधिक प्रभावी माध्यम से राजनीतिक माध्यम से लड़ेंगे।”

 पत्रकारिता में रहते हुए सीमित सीमाओं के चलते राजनीति में जा रहे हैं, ताकि सड़कों पर भी जनता की लड़ाई को लड़ा जा सके।

 पिछले दिनों से उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यक्रमों में शिव प्रसाद सेमवाल की सक्रियता से यह लगभग साफ है कि वह पत्रकारिता के बाद अब उत्तराखंड क्रांति दल को ज्वाइन करेंगे।

 मीडिया से बातचीत करते हुए शिवप्रसाद सेमवाल ने कहा कि एक-दो दिन में वह पर्वतजन के संपादक पद से भी अपना इस्तीफा दे देंगे, तथा पूरी तरह से राजनीतिक जीवन में उतर जायेंगे।

उनका कहना है कि राजनीति और पत्रकारिता के उद्देश्य भले ही उत्तराखंड की जनता की सेवा करना हो लेकिन यह दोनों रास्ते बिल्कुल अलग अलग हैं और दोनों रास्तों पर एक साथ नहीं चला जा सकता।

 सेमवाल ने कहा कि जिस तरह से पर्वतजन के बारे में लोगों का यह विश्वास है कि यदि उत्तराखंड की खबरें साहस के साथ कोई छाप सकता है तो वह पर्वतजन छाप सकता है, उसी तरह से उत्तराखंड क्रांति दल के बारे में भी आम जनमानस में यह धारणा है कि उत्तराखंड के मूलभूत सवालों को लेकर यदि कोई संघर्ष कर सकता है तो वह उत्तराखंड क्रांति दल ही कर सकता है।

 उत्तराखंड क्रांति दल ज्वाइन करने की संभावना के बारे में पूछने पर श्री सेमवाल ने बताया कि यूकेडी कोई दल नहीं बल्कि दिल है, यह कोई राजनीतिक पार्टी नहीं बल्कि जनता के मुद्दों पर क्रांति करने वाला संगठन है।

शिव प्रसाद शर्मा ने अपना इस्तीफा उत्तराखंड वेब मीडिया एसोसिएशन के महासचिव आलोक शर्मा को सौंपा कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महासचिव आलोक शर्मा ने कहा कि वह शिव प्रसाद सेमवाल के उद्देश्यों को लेकर हमसे जुड़े थे और उनकी यूनियन आगे भी उनके उद्देश्यों के साथ ही खड़ी रहेगी कार्यक्रम को क्राइम स्टोरी के संपादक राजेश शर्मा, राजेश शर्मा वरिष्ठ उपाध्यक्ष मनोज की इष्टवाल ने भी संबोधित किया पदाधिकारियों ने इस बात पर खुशी व्यक्तत की उनकी बीच से श्री सेमवाल की राजनीति ने सक्रिय होने से पत्रकार जगत की विभिन्न समस्याओं का भी समाधान आसानी से हो सकेगा। कार्यक्रम में एसोसिएशन केे कई पदाधिकारी तथा सदस्य मौजूद रहे।

कार्यक्रम में उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यकारी अध्यक्ष एपी जुयाल, महानगर अध्यक्ष सुनील ध्यानी, सहित लताफत हुसैन जय प्रकाश उपाध्याय, जयदीप भट्ट आदि पार्टी के कई वरिष्ठ पदाधिकारी भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments