Homeमध्य प्रदेशभोपाल : संकट की घड़ी में प्रज्ञा ठाकुर गायब

भोपाल : संकट की घड़ी में प्रज्ञा ठाकुर गायब

भोपाल : पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कोरोना महामारी में भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर के संसदीय क्षेत्र से नदारद रहने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। शर्मा का कहना है कि कोरोना महामारी के समय सांसद का आम जनता को संकट में छोडकर गायब होना बेहद चिंताजनक है। यदि सांसद महोदया क्षेत्र में होती तो भोपाल के मजदूर, आमजन जो दूसरे प्रदेशो में फंसे है उन्हें घर वापस लाने में मदद हो सकती थी।50 दिन से जारी लॉक डाउन में गरीबों को राशन नही मिल रहा है, लोगों के पास रोजगार के कोई साधन नही बचे है गरीब दो जून की रोटी के लिए संघर्ष कर रहा है, गरीबों के बिजली के बिल बढे हुए आ रहे है लोग मदद की आस देख रहे है लेकिन भोपाल की सांसद है कि क्षेत्र से नदारद है। इस समय वे केन्द्र सरकार की प्रतिनिधी है और केन्द्र सरकार ने 20 लाख करोड का राहत पैकेज में से सड़कों पर चल रहे मजदूरों के खाते में सात हजार पांच सौ रुपये और गरीबों के खाते में 7500 रुपये दिलवाने थे वहीं राज्य सरकार से प्रदेश और भोपाल की जनता के लिए राहत पैकेज, गरीब मजदूरों को आर्थिक सहायता, राशन की व्यवस्था करा सकती थी लेकिन सांसद के गायब होने के साथ ही लोगों की आशा खत्म हो गई है। भोपाल सांसद की जनता के प्रति बेरुखी से आमजन परेशान है यदि आज वे लोगों के बीच होती तो दूसरे राज्यों में फंसे भोपाल के मजदूरों को वापस लाने के लिए तेजी से प्रयास होते, ई पास की व्यवस्था होती, प्रशासनिक अमले को जनता की सेवा के लिए तैनात कराती लेकिन सांसद महोदय के अचानक गायब हो जाने से लोगों के सारे सपने साध्वी ने लूट लिए, यह दुर्भाग्यपूर्ण है। पीसी शर्मा ने शिवराज सरकार से इस संकट की घ़डी में लोगों को राहत देने के लिए तीन माह के बिजली के बिल, रोड टैक्स, प्रापर्टी टैक्स, बच्चों की स्कूलों की फीस माफ करने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments