Homeउत्तराखंडअवलोकन केंद्र के माध्यम से तीर्थाटन को मिलेगी एक नई ग्लोबल पहचान

अवलोकन केंद्र के माध्यम से तीर्थाटन को मिलेगी एक नई ग्लोबल पहचान

ऋषिकेश- नगर निगम प्रशासन ने गंगा अवलोकन केंद्र का सपना साकार करने की कवायद पूर्ण कर ली है। उद्घाटन से पूर्व महापौर ने इस महा प्रोजेक्ट का बारीकी के साथ निरीक्षण कर तमाम छुटपुट कमियों को जल्द दूर करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

अंतरराष्ट्रीय योगनगरी ऋषिकेश में विश्वस्तरीय गंगा अवलोकन केंद्र बनकर तैयार है।इसकी खूबसूरती निश्चित ही त्रिवेणी घाट की आभा में चार चांद लगाने वाली साबित होगी। बच्चों को आस्था की देवी मां गंगा की तमाम जानकारियां देने के लिए यहां मिनी थियेटर की भी व्यवस्था की गई है। गंगा तट स्थित भव्य सभागार का पूरी तरह से कायाकल्प कर इसे गंगा अवलोकन केन्द्र के रूप में शानदार तरीके से विकसित किया गया है। पूरी तरह से वातानुकूलित एवं दूधिया रोशनी से नहाए गंगा अवलोकन केन्द्र में विश्व प्रसिद्ध चारधाम धाम यात्रा सहित गंगा से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां खूबसूरत पोस्टरों के माध्यम से सजाई गई हैंं।

गंगा अवलोकन केन्द्र के उद्वाटन से पूर्व महापौर अनिता ममगाई ने इसका बारिकी से निरीक्षण किया।महापौर ने जानकारी देते हुए बताया कि देवभूमि ऋषिकेश में आने वाले पर्यटकों एवं श्रद्वालुओं को करोड़ों देशवासियों की आस्था का प्रतीक माने जाने वाली मां गंगा के पोराणिक इतिहास की समूची महत्वपूर्ण जानकारी अवलोकन केन्द्र में मिलेगी।उन्होंने बताया कि उनके चुनावी घोषणापत्र में यह परियोजना शामिल थी जिसे धरातल पर उतारने के लिए किए गये प्रयासों के चलते परियोजना को केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय ने मंजूरी प्रदान की थी। महापौर अनिता ममगाई ने बताया कि ऋषिकेश को पर्यटन के साथ तीर्थाटन के प्रमुख केंद्र के रूप में विकसित किए जाने के लिए निगम संकल्पबद्ध है। ऋषिकेश में गंगा तट पर गंगा अवलोकन केंद्र की कमी शिद्दत से महसूस की जा रही थी।शहर की ग्लोबल पहचान और मजबूत बनाने में अवलोकन केन्द्र मील का पत्थर साबित होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments